अमित शाह: पकौड़ा बेचना शर्म की बात नहीं, यह बेरोजगारी से तो अच्‍छा है!!!!

Breaking News : कांग्रेस पार्टी को बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह ने राज्‍यसभा में लताड़ा!!!!

Video Source: Pyara Hindustan

मीडिया के अनुसार, बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह ने राज्‍यसभा में पहली बार बोलते हुए कांग्रेस और बाकी विपछी पार्टीओ को लताड़। अमित शाह ने कहा की कांग्रेस पार्टी और उनके नेता ने  ‘पकौड़ा’ बेचने वालो को भिकारी से तुलना किया जिस पे अमित शाह ने कांग्रेस पार्टी को खूब लताड़ा। सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस नेता पी चिदंबरम के पकौड़ा बेचने संबंधी पीएम नरेंद्र मोदी के बयान पर टिपडी किया था और इसी वजह से अमित शाह ने राज्‍यसभा में कहा कि जिस तरह एक चाय बेचने वाले का बेटा देश का प्रधानमंत्री बन सकता है, उसी तरह एक पकौड़े वाले का भी बीटा और बेटी भी अगली पीढ़ी उद्योगपति बन सकती है।

Loading…

और जानने के लिए : BREAKING NEWS

बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह ने राज्‍यसभा में कहा कि कांग्रेस पार्टी दोगली राजनीती करती है, उन्होंने कहा की कांग्रेस पार्टी  ने GST के सभी कॉउंसिल मे हिसा लिया और अपनी सहमति दी फिर उसके बाद संसद मे अलग और जनता के सामने अलग बयान क्यों देती है। अमित शाह ने कहा की कांग्रेस पार्टी देश के अन्दर दोगली राजनीती कर रही है, कांग्रेस पार्टी देश को बाटने का काम कर रही है। देश ऐसे लोगो को अच्छा जवाब देगी, कांग्रेस पार्टी के लोगो का हर एक जगह अलग अलग जवाब होते है, ये पार्टी सिर्फ वोट बैंक की राजनीती करती है।

कौन है बेबी मोशे? जिससे मिलने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हुए उत्साहित!!!!

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इजराइल मे बेबी मोशे से मिलने के लिए इच्छा जतायी!!!!

Video Source: NMF News
जैसा सब को पता है की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इजरायल दौरे गए हुए हैं। इस दौरे पर भारत और इजराइल मे बहुत से अहम समझौते होने के उम्मीद हैं, लेकिन इस दौरे में एक और बेहद खास और मानवीय पहलू भी सामने आता है। एक रिपोर्ट के अनुसार, 26/11 मुंबई हमले में बेबी मोशे ने अपने मां-बाप को खोने वाला बच्चा है जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने के लिए बेहद उत्साहित है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार को इजरायल पहुंचने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 10 साल के मोशे से मुलाकात करने की इच्छा जतायी है। मुंबई हमले में बेबी मोशे के माता-पिता रब्बी गवेरीएल और रिव्का को आतंकियों ने गोली मार कर कत्ल कर दिया था। जब ये हमला हुआ था, उस समय बेबी मोशे की उम्र सिर्फ 2 साल थी। 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, इजराइल मे बेबी मोशे से मिलने के लिए इच्छा जतायी! onlynarendramodiji

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बेबी मोशे की मुलाकात के समय बेबी मोशे की आया सैंड्रा भी मौजूद रहेंगी। 26/११ मुंबई हमले के समय चाबड़ हाउस मे बेबी मोशे की जान सैंड्रा ने ही बचायी थी। अभी सैंड्रा विकलांग बच्चों के पुर्नवास केंद्र अलेह जेरूसलेम सेंटर में काम करती हैं। सूत्रों के अनुसार, बेबी मोशे इजराइल मे अपने नाना-नानी के साथ रहता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बेबी मोशे से होने वाली मुलाकात से सैंड्रा बहुत ज्यादा उत्साहित हैं, सैंड्रा ने मीडिया से बात करते समय बताया कि शुरुआती 4-5 सालों तक उन्होंने बेबी मोशे की देखभाल आया की तरह की। सैंड्रा ने बात करते समय यह भी बताया कि बेबी मोशे 26/11 मुंबई हमले की रात के बारे में कुछ भी नहीं जानता, कैसे उसके माता पिता की हत्या हुई।

Loading…

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सैंड्रा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बेबी मोशे से मुलाकात का फैसला लेकर यह साबित किया है कि सरकार को बेबी मोशे की बहुत फिक्र है और यह मेरे लिए बहुत सौभाग्य की बात है कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने वाली हूं। जैसा की हम सब को पता है की बेबी मोशे और उसके इजरायली माता-पिता मुंबई के नरीमन हाउस में रहते थे। सूत्रों के अनुसार, सैंड्रा सैमुअल मोशे की आया के तौर पर वहा काम करती थीं। 2008 में 26 नवंबर को मुंबई पर लश्कर तैयबा के आतंकियों ने हमले में नरीमन हाउस को भी निशाना बनाया था, वहा पे आतंकियों ने 173 लोगों को मार डाला था उस में बेबी मोशे के माता-पिता भी थे।
मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, 26/11 मुंबई हमले की रात सैंड्रा ने बेबी मोशे को बचा लिया था, उस वक्त बेबी मोशे सिर्फ 2 साल का था। सैंड्रा सैमुअल ने उस रात की सारी घटना एक मीडिया को दिए गए उनके एक इंटरव्यू में बताई थी। सैंड्रा ने कहा कि जब उन्होंने गोलियों की आवाज सुनी तो, उन्होंने सबसे पहले नीचे का फोन उठाया, उस समय ऊपर से ढेर सारी आवाजें आ रही थीं। सैंड्रा ने सबसे पहले फोन का तार निकाल दिया और लॉन्ड्री रूम में जाकर खुद को छिपा लिया। उन्होंने अपने इंटरव्यू में बताया की उनको उस समय कुछ समझ नहीं आ रहा था और उन्होंने कहा की वो जाकर कायरों की तरह छुप गईं थी। तब उन्होंने थोड़ी हीमत कर के वहा से निकली और जब अगली सुबह बेबी मोशे की आवाज उनको आई, बेबी मोशे उनको बुला रहा था। तब वो ऊपर कमरे में गई और उन्होंने देखा बेबी मोशे के माता पिता रब्बाई गैव्रिएल हॉल्ट्जबर्ग और मां रिव्का की लाश जमीन पे पड़ी थी।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, इजराइल मे बेबी मोशे से मिलने के लिए इच्छा जतायी! onlynarendramodiji

सैंड्रा ने देखा बेबी मोशे उनके माता पिता की लाश के पास बैठा हुआ था और तब मैंने चुपचाप उसे वहा से उठाया और बिल्डिंग से बाहर भाग गई। इसके बाद बेबी मोशे के मां-पिता की अंत्येष्टि के बाद बेबी मोशे अपने दादा-दादी के साथ इजरायल चला गया और साथ में सैंड्रा सैमुअल भी गईं। उस समय बेबी मोशे सिर्फ सैंड्रा को ही पहचानता था, सैंड्रा ने बेबी मोशे को अपने बच्चे की तरह ख्याल रखा और बेबी मोशे को इजरायल ने वहा की नागरिकता प्रदान की। बेबी मोशे इजरायल मे अपने दादा-दादी के साथ रहने लगा और इजरायल ने सैंड्रा को भी 2 साल बाद इजरायल की नागरिकता दे दी थी। इजरायल ने सैंड्रा को उनकी बहादुरी के लिए बहुत सम्मान दिया और इजरायली सरकार ने भी उन्हें बहुत सम्मान दिया था।

ऐसा क्या कहा अजमेर के प्रमुख दीवान ने की पुरे देश के सभी धर्म के लोग उनके साथ हो गए…

ऐसा क्या कहा अजमेर के प्रमुख दीवान ने???

अजमेर के सूफी संत हजरत ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती के प्रमुख दीवान सैयद जैनुल आबेदीन अली खान ने पूरे देश में बीफ और गोहत्या बंद कराने की मांग की है और देश के सभी मुसलमानो से भी निवेदन किया की बीफ खाना बंद कर दे। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी अपील करते हुए कहा है कि बीफ को लेकर हिन्दू और मुसलमानो के बीच पनप रहे नफरत को खत्म करने के लिए केंद्र सरकार को देशभर में गो-वंश की सभी प्रजातियों के वध करने व इनका मांस बेचने पर प्रतिबंध लगाना चाहिए।

Loading…

प्रमुख दीवान सैयद जैनुल आबेदीन अली खान ने कहा कि उनके पूर्वज ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती ने इस देश की संस्कृति को इस्लाम के नियमों के साथ अपना कर भारत मुल्क में अमन शान्ति स्थापित करने समेत मानव सेवा के लिये जीवन को समर्पित किया था। इसी तहजीब को बचाने के लिए गरीब नवाज के 805वें उर्स के मौके पर मैं और मेरा पूरा परिवार बीफ या उस से जुड़े कोई भी मांस के सेवन को त्यागने की घोषणा करता है। उन्होंने हिन्दोस्तान के मुसलमानों से यह अपील करते हुए कहा कि देश में सद्भावना को फिर से स्थापित करने के लिए वह भी बीफ और गो मांस को त्याग कर एक मिसाल पेश करना चाइये।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा तीन तलाक पे सहमति जताते हुए, सैयद जैनुल ने अपने बयान में कहा है कि मुस्लिम धर्मगुरु का भी यही मत है कि तीन तलाक के उच्चारण को शरीयत ने नापसंद किया है। उन्होंने कहा कि गोवंश को लेकर मुल्क में सैंकड़ों साल से जिस गंगा जमुनी तहजीब से हिन्दु और मुस्लमानों के बीच मोहब्बत और भाईचारे का माहौल स्थापित था उसे ख़राब न करे।

Loading…

सैयद जैनुल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील करते हुए कहा की गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित केर देना चाइये।सैयद जैनुल ने कहा गाय सिर्फ एक जानवर नहीं है बल्कि हिंदुओं की आस्था से जुडी है। जिन राज्यों में गौहत्या की जाती है वह भी बंद होना चाहिए और उन्होंने गोहत्या पर उम्रकैद वाले बीजेपी गुजरात सरकार के फैसले की बहुत तारीफ की।

Source: Image1, Image2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *